Posts Tagged ‘Hindi books’

नहीं, नहीं, नहीं सेल्फी ऐसे नहीं लेते हैं, जैसे तुम ले रही हो।फोन अपने कजिन को देते हुए मैं झुंझलाते हुए बोली, ये लो और खींचो...

जिस दिन शान्ति और अर्पणा की पहली मुलाकात हुई थी, उसी दिन शान्ति के सब्जी लाने वाले झोले की तन्नी टूट गयी थी। वह झोला काफी...

हाय हेल्लो! तुम्हारी मदद के लिए धन्यवाद। मैं बहुत खुश हूं, हालांकि मुझे इस बात पर संदेह है कि तुम्हें मेरी मदद की ज़रूरत...

शुभम आपकी कहानी फ़िल्टर कॉफ़ी पाठकों द्वारा पसंद ही गयी है, कहानी के बारे में विस्तार से बताएं. आजकल के दौर में प्यार और...

यादगार गुज़रे हुए लम्हों की कसक प्रतियोगिता के विजेता, अविनाश चंचल खांटी बिहारी हैं, हज़ारों नवयुवकों की तरह अविनाश भी रोज़ी...

मोहम्मद कौशेन की लिखी  ‘बदचलन ‘  कहानी को जगरनॉट बुक्स के राइटिंग प्लेटफॉर्म पर पाठकों द्वारा सबसे अधिक सराहा गया है। ...

जगरनॉट बुक्स को यह बताते हुए ख़ुशी हो रही है कि हम अपने ऐप पर हिंदी के जाने-माने लेखक भीष्म साहनी के मशहूर और पुरस्कृत...

आज से कई वर्ष पहले जब इंटरनेट की लहर भारत में अपने पैर जमा रही थी, तब एक बड़े स्तर पर हिंदी भाषा और उसके अस्तित्व को लेकर...

क्या आप जानते हैं कि एक भारतीय रोजाना औसत 155 मिनट मोबाइल ऐप्स पर बिताता है? सोशल मीडिया के अलावा गेम्स और खबरों के ऐप्स सबसे...

With globalization at its peak, English has quickly become a global language. We have already forgotten our क, ख, ग(s), remembering just the abc(s). Remembering Hindi grammar classes always tends to nostalgia but never to knowledge anymore. So, here is a shoutout to our mother-tongue: where the words are so...