By

जगरनॉट बुक्स के राइटिंग प्लेटफार्म पर “ प्रेम कथा ”( कहानी ) प्रतियोगिता में हमें अनेक कहानियां प्राप्त हुई, जिनमें आशीष कुमार त्रिवेदी की कहानी रूमानियत इस प्रतियोगिता की विजेता रही. लेखक आशीष कुमार त्रिवेदी को जगरनॉट बुक्स की ओर से विजेता बनने पर बधाई एवं शुभकामनाएं।

आशीष  की  कहानियां  जगरनॉट  राइटिंग  प्लेटफार्म के  अलावा  Storyweaver.com Matrubharati. com तथा  Pratilipi.com पर प्रकाशित हो चुकी हैं । वो कहते हैं कि  “लेखन मेरे लिए अभिव्यक्ति का एक माध्यम है जिसके द्वारा मैं आस पास घट रही चीज़ों के अपने मन पर पड़ने वाले प्रभाव को शब्दों के ज़रिए बताता हूँ “।

आशीष आपकी कहानी प्रतियोगिता की विजेता कहानी घोषित की गई है। कृपया हमें अपनी कहानी ‘रूमानियत’ के बारे में विस्तार से बताएं।

रूमानियत प्रेम के सही अर्थ को दर्शाने वाली कहानी है। सच्चा प्रेम महसूस करने की चीज़ है ना कि दिखावे की। जैसे कि रूमानियत की नायिका राधिका को लगता है कि उसका पति नीरज उसे प्रेम नहीं करता है क्योंकि वह औरों की तरह बात बात पर उसका इज़हार नहीं करता है। वह अपनी वकील सहेली के पास नीरज से तलाक लेने के लिए जाती है। लेकिन उसकी सहेली एक सच्चे दोस्त की तरह उसे कुछ दिन ठहर कर फिर से सोचने के लिए कहती है। राधिका अपनी सहेली की बात मान जाती है। उसके बाद राधिका के जीवन में जो कुछ घटता है वह उसे इस बात का एहसास कराता है कि नीरज बात बात पर अपना प्रेम दिखाता नहीं है किंतु उसे सच्चा प्रेम करता है। जब राधिका जीवन के सबसे बुरे दौर में थी तब उसके कहने पर भी नीरज उसका साथ नहीं छोड़ता है। एक वफ़ादार जीवनसाथी का फर्ज़ निभाता है।

दूसरी तरफ नीरज को भी यह एहसास होता है कि भले ही प्यार दिखावे की वस्तु नहीं हो पर उसमें रोमांस का होना भी ज़रूरी है। ताकि जीवनसाथी प्रेम की गर्माहट महसूस कर सके।

 एक लेखक के तौर पर क्या आप कोई विशेष नियम फॉलो करते हैं?

मेरे विचार से सही लेखन वही है जो मानवीय भावनाओं को सही प्रकार से व्यक्त कर सकें। जिसमें समाज का सही प्रतिबिंब देखा जा सके। किंतु ऐसा करते हुए लेखक को किसी पूर्वाग्रह से बचना चाहिए। लेखन में ईमानदारी रखना बहुत आवश्यक है। आप वही लिखें जो सही हो। यदि सच्चाई कड़वी है तो उसे लिखने में भी संकोच ना करें।

एक लेखक के तौर पर मेरा पूरा प्रयास रहता है कि मैं कठिनाइयों से जूझते पात्रों में भी एक सकारात्मक दृष्टिकोण प्रस्तुत कर सकूं। कहानी का अंत इस तरह करूं कि पाठक के मन में अवसाद ना हो बल्कि वह उम्मीद की एक किरण पा सके। इसका अर्थ यह नहीं कि ऐसा करने के लिए मैं सच्चाई से इतर कोई रंगीन सपना उन्हें दिखाऊंगा। पर मेरा मानना है कि जीवन की विसंगतियों के बावजूद जिजीविषा हमें रास्ता दिखाती है।

 आपके अपने पसंदीदा लेखक कौन हैं और उनकी लिखी कोई रचना जो आपको पसंद हो?

मैं साहित्यिक आध्यात्मिक तथा प्रेरणादाई सभी प्रकार की पुस्तकें पढ़ने में रुचि रखता हूँ। अतः मैं किसी एक लेखक से प्रभावित नहीं हूँ। मैं कई लेखकों को पसंद करता हूँ। लेकिन यदि किसी एक पुस्तक का नाम लेना है तो पं. जवाहर लाल नेहरू की पुस्तक ‘भारत एक खोज (Discovery of India) मुझे बहुत पसंद है। यह पुस्तक हमारे विशाल एवं प्राचीन देश के इतिहास की एक विस्तृत झांकी प्रस्तुत करती है। इसके अलावा नेपोलियन हिल की Think and grow rich रॉबिन शर्मा कीThe monk who sold his Ferrari। लेकिन जिजीविषा को सही तरह से दिखाने वाली पुस्तक है जेन डॉमनिक बॉबी की किताब ‘The diving bell and butterfly‘।

हिंदी के लेखकों में मुंशी प्रेमचंद के चरित्र बहुत ही सजीव प्रतीत होते हैं। मुझे लगता है कि इतना समय बीत जाने के बाद आज भी हमारे देश के बहुत से लोग गरीबी व आभाव में जी रहे हैं।

पिछले साल मैंनेयशपाल’ जी द्वारा रचित उपन्यास ‘झूठा सच पढ़ी थी। देश के विघटन की पृष्ठभूमि पर लिखे गए इस उपन्यास ने मुझे प्रभावित किया। इसका पहला भाग ही मैं पढ़ पाया हूँ। दूसरा भाग अभी नहीं पढ़ा।

नरेंद्र कोहली’ जी द्वारा रचित स्वामी विवेकानंद की औपन्यासिक जीवनी तोड़ो कारा तोड़ो‘ ने भी मुझ पर सकारात्मक प्रभाव डाला है। इसके अलावाशरतचन्द्र चट्टोपाध्याय’  के कुछ उपन्यासों का हिंदी अनुवाद पढ़ा है।

जगरनॉट का राइटिंग प्लेटफार्म आपके लिए किस तरह से लाभदायक रहा है ? 

जगरनॉट से जुड़े अभी मुझे अधिक समय नहीं हुआ है। लेकिन इस प्लेटफार्म ने मुझे यह सम्मान प्रदान किया है। इसके लिए मैं जगरनॉट का बहुत आभारी हूँ। इस प्लेटफार्म पर कई दिग्गज लेखक मौजूद हैं। यहाँ विविध विषयों पर उच्चकोटि की रचनाएं पढ़ने को मिलती हैं। जिससे मुझे भी अपने लेखन में सुधार के अवसर मिलते हैं। यह प्लेटफार्म मेरे जैसे नए लेखकों को एक विस्तृत मंच प्रदान करता है। यहाँ ना सिर्फ प्रतिष्ठित लेखकों से रूबरू होने का अवसर मिलता है बल्कि स्वयं का हुनर दिखाने का मौका भी मिलता है। उन लोगों के लिए जिन्होंने लेखन की राह पर अभी कदम ही रखे हैं के लिए यह एक आदर्श स्थिति है।

अपनी आने वाली किसी कहानी के बारे में बताएं।

एक लेखक के तौर पर मन में कई प्रकार के विचार उमड़ते रहते हैं। इस समय भी मन में अनेक विषय हैं जो शब्दों का जामा पहनने को आतुर हैं। किंतु अभी मेरी अगली दो कहानियां जगरनॉट द्वारा आयोजित आगामी प्रतियोगिताओं के लिए होंगी। एक सुखद अंत वाली प्रेम कहानी और दूसरी अपराध पर आधारित कथा होगी। मेरी प्रेम कथा दो ऐसे प्रेमियों की कहानी है जो परिस्थितियों के कारण जुदा हो जाते हैं। किंतु दूरी और समय भी उनके प्रेम को कम नहीं कर पाता है। जब वह दोबारा मिलते हैं तो फिर जीते जी कभी ना बिछड़ने के लिए।

अपने पाठकों के लिए कोई सन्देश जो आप देना चाहेंगे?

एक लेखक की सफलता उसके पाठकों पर ही निर्भर करती है। पाठक अपनी प्रतिक्रियाओं के माध्यम से लेखक को उचित मार्गदर्शन प्रदान करते हैं। पाठकों से मिलने वाला प्यार व सहयोग ही लेखक को नया लिखने के प्रेरित करता है। अतः अपने पाठकों से मेरा निवेदन है कि वह मुझ पर तथा जगरनॉट पर मौजूद अन्य लेखकों पर अपना प्रेम बनाए रखें। कहानी को पढ़कर उस पर अपनी प्रतिक्रिया व परामर्श दें जिससे लेखक अपनी त्रुटियों को सुधार सकें।

आशीष  की रूमानियत पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Leave a Reply